Job vs Business in Hindi - top deference

Job vs Business in Hindi

job vs business,business,job or business,job vs business in hindi,business vs job,job,job vs business hindi,business ideas,business vs job hindi,choose between job or business in hindi,job vs business career growth with an example,job vs entrepreneurship,business vs job which is better,job or business in hindi,job or business which is better,govt job vs business,job vs business life
Job v/s Bussiness

जॉब और बिजनेस में अंतर : एक बहुत बड़े डिग्री कॉलेज के सामने मोतीलाल की पकौड़े की दुकान थी।

Difference between Job and Bussiness in Hindi
पकोड़े वाला

कॉलेज के बच्चे और टीचर लंच में पकोड़े खाने के लिए उसके दुकान पर आया करते थे। एक दिन पकौड़े खाते समय टीचर ने पकौड़े वाले से पूछा:-

job vs business,business,job or business,job vs business in hindi,business vs job,job,job vs business hindi,business ideas,business vs job hindi,choose between job or business in hindi,job vs business career growth with an example,job vs entrepreneurship,business vs job which is better,job or business in hindi,job or business which is better,govt job vs business,job vs business life
Teacher


मोतीलाल तुम्हें नहीं लगता कि तुम पकोड़े बना कर के अपने अंदर के टैलेंट को खराब कर रहे हो।
 इस पर मोतीलाल ने कहा:  हमारे पकौड़े की दुकान सर आपके नौकरी से कहीं अच्छी है। क्योंकि जब मैं टोकरी में पकोड़े बेचा करता था तब आपकी नौकरी लगी थी। और उस समय आप 20,000 रू० कमाया करते थे और मैं 2,000 रू० ।
पिछले 20 सालो मे हम दोनो ने बहुत मेहनत की, आपकी सैलरी दो गुनी हो गयी और मैं टोकरी से इस  प्रसिद्ध दुकान तक पहुँच गया।
आज आप 40 हजार रूपए कमा रहे हैं और मैं 60  हजार रुपए कमा रहा हूँ।
 लेकिन इस बात के लिए मैं अपने काम को अच्छा नहीं कह रहा हूं।
  यह तो मैं अपने बच्चों के कारण कह रहा हूं क्योंकि आप  जरा सोचिए  जो मैंने दिक्कतें सही, टोकरी से इस प्रसिद्ध दुकान तक पहुंचने में वह मेरे बच्चों को नहीं झेलना पड़ेगा यह दुकान मेरे बच्चे को मिलेगी मेरे मेहनत का मेरे बच्चे भी लाभ उठा पाएंगे।
  लेकिन क्या आपके मेहनत का आपके बच्चे लाभ उठा पाएंगे उन्हें  फिर जीरो से शुरू करना पड़ेगा। और अंत में वही पहुंच जाएंगे जहां आज आप हैं।
 लेकिन मेरा बटा इस बिजनेस को यहां से और आगे तक ले कर जाएगा। और अपने कार्यकाल में हम सब से बहुत आगे निकल जाएगा।
 अब आप ही बताइए सर किस का समय और भविष्य बरबाद हो रहा है?
 मास्टर साहब ने कहा :  मोतीलाल तूने मेरी आंखें खोल दी। मुझे यह पता चल गया  कि जिंदगी एक खेल है, जिसे तूने सही खेला और मैंने गलत।
 इतना कह कर मास्टर साहब ने पकोड़े के 10 रू० दिए, और वहां से निकल गए ।
Job vs Business me top deference Hindi me aap sabhi ko samjhane ka prayash kiya hu Ki job or Business me kya antar hai, mujhe aasha hai Ki aap samajh paye honge.
Thank you

Post a Comment

2 Comments

  1. Very nice Motivational post🔥🔥
    It's not only best motivation but life changing also
    I am truly motivated by you
    really inspairing💪💪
    Again very........ Nice
    Thank you so much Sir🙏🙏🙏

    ReplyDelete
  2. Defineded in post clearly defarence between job & business

    ReplyDelete