ए० पी० जे० अब्दुल कलाम

A P J Abdul Kalam in Hindi

a p j abdul kalam in hindi, a p j abdul kalam biography in hindi, about a p j abdul kalam in hindi, a p j abdul kalam in hindi biography, a p j abdul kalam essay, a p j abdul kalam hindi, a p j abdul kalam biography in short, about a p j abdul kalam in hindi, dr. a p j abdul kalam in Hindi,a p j abdul kalam, a p j abdul kalam jivan parichay, a p j abdul kalam jivani, biography of a p j abdul kalam in hindi, a p j abdul kalam information, a p j abdul kalam in hindi essay, life journey of a p j abdul kalam in hindi

डॉ ए पी जे अब्दुल कलाम का सम्पूर्ण जीवन प्रेरणा का स्त्रोत है जिनका पूरा जीवन संघर्ष और कठिनाइयों में बीता फिर भी इन्होंने परिस्थितियों के आगे अपना सर नहीं झुकाया और असफलताओं से हारे बिना कठिन परिश्रम और लगन के साथ भारत को एक नई ऊंचाइयों पर ले कर गए तथा कलाम के रूप में भारत को एक महान वैज्ञानिक और मिसाइल मैन मिला। और आज हमारे बीच ना होते हुए भी एपीजे अब्दुल कलाम प्रत्येक हिंदुस्तानी के दिलों में बसते हैं।


  नाम  ए पी जे अब्दुल कलाम
  जन्म  15/10/1931
  जन्म स्थान  रामेश्वरम, तमिलनाडु
  पूरा नाम  अबुल पाकिर जैनुलअब्दीन अब्दुल कलाम
  पिता  जैनुलाबदीन
  माता  आशियमा
  जाति  मुस्लिम
  शिक्षा  रामनाथपुरम् स्वटर्ज हाई स्कूल से
  राष्ट्रपति कार्यकाल  2002 से 2007 तक
  पुरस्कार  भारत रत्न, पद्म विभूषण, डॉक्टर ऑफ़ साइन्स
  पुस्तक  अग्नि की उड़ान, इंडिया 2020
  website  www.abdulkalam.com
  मृत्यु  27/07/2015

बचपन : ए पी जे अब्दुल कलाम का जन्म 1931 में तमिलनाडु राज्य के रामेश्वरम में हुआ था। यह अपने लंबे चौड़े और सुंदर माता पिता के साधारण से दिखने वाले छोटे कद के बच्चे थे। इनके पिता जैनुलाबदीन कम पढ़े लिखे और साधारण परिवार के थे, और इनकी माता आशियमा जैनुलाबदीन थीं। कलाम अपने माता पिता के साथ पुश्तैनी घर में रहा करते थे। जो 19 वी सदी में चूना पत्थर और ईंटों से बना हुआ था। कलाम का घर मस्जिद वाली गली में था, जहां से रामेश्वरम मंदिर 10 मिनट का रास्ता था। वहां हिंदू मुस्लिम दोनों जाति के लोग बहुत प्यार के साथ रहा करते थे। उनके गणित के टीचर 5 बच्चों को निशुल्क पढ़ाया करते थे, जो सुबह 4:00 बजे स्नान करके उनके पास पढ़ने आते थे, कलाम इस अवसर को कैसे छोड़ सकते थे, वह भी सुबह 4:00 बजे ही स्नान करके गणित पढ़ने पहुंच जाते थे। इसके बाद वह रामेश्वरम् स्टेशन और बस स्टैंड पर अखबार बटा करते थे।



biography of a p j abdul kalam in hindi, a p j abdul kalam in hindi

मां आशियमा : कलाम की मां की आशियमा कलाम से बहुत प्यार-दुलार करती थी। कलाम मां के साथ रसोई में ही खाया करते थे। कलाम की मां एक उदार हृदय वाली स्त्री थी, जो प्रतिदिन अपने परिवार के सदस्यों के अलावा कई अन्य लोगों को खाना खिलाया करती थी। कलाम के माता पिता को समाज में एक आदर्श पति पत्नी माना जाता था। कलाम की मां के खानदान का बड़ा सम्मान था उनके खानदान में ही एक सदस्य को अंग्रेजों ने बहादुर की पदवी दी थी।


पिता जैनुलाबदीन: कलाम के पिता जी लकड़ी की नाव बनाने का काम किया करते थे, जो नौकाएँ तीर्थयात्रियों को लाने-ले जाने के काम आती थीं। वह रामेश्वरम् मंदिर के सबसे बड़े पुजारी पक्षी लक्ष्मण शास्त्री के मित्र थे यह दोनों लोग हमेशा अध्यात्मिक मामलों पर चर्चाएं करते थे। कलाम के पिता जी अध्यात्म की जटिलताओं को भी तमिल भाषा में बहुत ही सरल ढंग से समझा देते थे। कलाम के पिता जी कलाम से कहा करते थे : हरेक इंसान अपने समय, स्थान और भली या बुरी हालत में उस दैवी शक्ति का हिस्सा बन जाता है जिसे हम ईश्वर या अल्लाह कहते हैं। हम संकटों, दु:खों या समस्याओं से क्यों घबराएँ? संकट और दु:ख से हमें सीख मिलती है। मुसीबत हमेशा आत्मविश्लेषण का अवसर प्रदान करती है। 

शिक्षा : कलाम पढ़ने में सामान्य बच्चों की तरह ही थे परंतु इनके अंदर कुछ नया सीखने की मजबूत इच्छा-शक्ति थी। बचपन से ही कलाम आकाश में उड़ते पक्षियों से काफी प्रभावित थे हालांकि कलाम बहुत ही साधारण परिवार से थे परंतु फिर भी इनका एक स्वप्न था कि मैं भी एक दिन इसी तरह आसमान में उड़ान भरूँगा, और कलाम रामेश्वरम् के पहले लड़के थे जिन्होंने आसमान में उड़ान भरी। रामनाथपुरम् स्वटर्ज हाई स्कूल से कलाम ने हाईस्कूल की शिक्षा पूर्ण की। सन् 1950 में इंटरमीडिएट की पढ़ाई त्रिची के सेंट जोसेफ कॉलेज में की, फिर उन्होंने इसी कॉलेज से B.sc किया। B.sc के बाद कलाम को यह महसूस हुआ कि उन्हें अपने सपने पूरे करने के लिए इंजीनियरिंग में जाना होगा। तब उन्होंने मद्रास इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (M.I.T.) से उन्होंने इंजीनियरिंग की शिक्षा पूरी की।

biography of a p j abdul kalam in hindi, a p j abdul kalam in hindi, a p j abdul kalam biography in hindi, about a p j abdul kalam in hindi, a p j abdul kalam in hindi biography, a p j abdul kalam essay, a p j abdul kalam hindi, a p j abdul kalam biography in short, about a p j abdul kalam in hindi, dr. a p j abdul kalam in Hindi,a p j abdul kalam, a p j abdul kalam jivan parichay, a p j abdul kalam jivani, biography of a p j abdul kalam in hindi, a p j abdul kalam information, a p j abdul kalam in hindi essay, life journey of a p j abdul kalam in hindi



• Ujjwal Patni Famous Quotes
• Top 30 Motivational Quotes in Hindi



कलाम का व्यवसाय : इंजीनियरिंग करने के बाद कलाम बंगलौर चले गए। वहां इन्होंने हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (H.A.L.) में एक टीम के सदस्य के रूप में इंजनों की मरम्मत का काम किया। यहां से वह वैमानिकी इंजीनियर बनकर निकले, तो उनके पास नौकरी के दो बड़े अवसर थे पहला भारतीय वायुसेना का और दूसरा भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) का। यह दोनों अवसर उनके सपने को पूरा करने वाले थे। परंतु भारतीय वायुसेना में कलाम का सिलेक्शन नहीं हो पाया जिससे कलाम बहुत निराश हुए, और उन्होंने नौकरी का दूसरा विकल्प ISRO में वैज्ञानिक के रूप में कार्य प्रारंभ कर दिया।
जहां उन्होंने अग्नि और पृथ्वी जैसे मिसाइलों को डिजाइन किया और सफलतापूर्वक मिसाइलों को प्रक्षेपित भी किया। इतना ही नहीं उन्होंने पोखरण में परमाणु परीक्षण करके भारत को परमाणु शक्ति प्रदान किया। भारत की अग्नि और पृथ्वी मिसाइले ए पी जे अब्दुल कलाम द्वारा दी हुई महान भेद है आज हम ए पी जे अब्दुल कलाम को मिसाइल मैन ऑफ इंडिया (Missile Man of India) के नाम से भी जानते हैं। कलाम का सपना था कि हमारा देश सुपर पावर बने।

pokharan parmanu parichhan by a p j adul kalam

राजनीतिक सफर : एपीजे अब्दुल कलाम ने भारत के अस्त्र-शस्त्र विज्ञान के अलावा राजनीति में भी अपना बहुत बड़ा नाम बनाया। उन्होंने भारत की सबसे बड़ी पदवी को पूर्ण बहुमत सहित प्राप्त किया, परंतु यह उन्हें पता भी नहीं था कि नियति उनसे विज्ञान से लेकर राष्ट्रपति तक का सफर भी तय कराएगी। वह 18 जुलाई 2002 को देश के राष्ट्रपति बन गए। कलाम ने इस पद पर देश के हित में बहुत से कार्य किए। इनके भारत के प्रति लगन और समर्पण को देखते हुए इन्हें भारत रत्न से सम्मानित किया गया। भारत रत्न कलाम ने अपने पूरे जीवन यात्रा को विंग्स ऑफ फायर ( Wings of Fire) नामक पुस्तक मे लिखा है। भारत के भविष्य की कल्पना उन्होंने इंडिया 20-20 में किया है, कलाम भारत को सुपर पावर बनाना चाहते थे, और हम सब मिलकर भारत रत्न अब्दुल कलाम के सपने को पूरा करेंगे। आज अब्दुल कलाम पूरी युवा पीढ़ी के लिए एक प्रेरणा के स्त्रोत है।


bharat ratna awarded winner a p j abdul kalam

• Top 20 Motivational Quotes in Hindi

पुस्तकों के शौकीन : डॉक्टर कलाम पुस्तको के भी शौकीन थे। वह हमेशा नई-नई किताबें पढ़ा करते थे उन्हें किताबें पढ़ना बहुत पसंद था। कलाम का कहना था की, पुस्तकें मेरे मित्रों की तरह हैं, जिन्होंने मेरा हाथ थामकर मुझे रास्ता दिखाया तथा मुझे नई दिशा दी। इनके शब्दों ने मुझे संसार में होनेवाली गतिविधियों से जोड़ दिया।
कलाम की पसंदीदा पुस्तकें निम्न थीं:

लाइट फ्रॉम मेनी लैंप्स : यह कलाम की पहली पसंदीदा पुस्तक थी। जो कि एक प्रेरणादायक पुस्तक है, इसमें कई लेखकों के लेख सम्मिलित हैं। इस पुस्तक में कई प्रेरणादायी कहानियों का वर्णन किया गया है, इसे लिलियन आइशलर वाटसन ने संपादित किया था।

तिरुकुरल : यह कलाम की दूसरी पसंदीदा पुस्तक थी। तिरुकुरल एक प्रेरणादायी पुस्तक है, जिसने कलाम को बहुत प्रेरित किया। इसकी रचना लगभग 2,000 वर्ष पहले तिरुवल्लुवर ने की थी। यह पुस्तक बहुत सी दोहे (कुरल) से मिलकर बनी है।

मैन द अननोन  :यह पुस्तक नोबेल पुरस्कार विजेता एलेक्सिस कैरेल ने लिखी है। यह पुस्तक चिकित्सा विज्ञान से संबंधित है।

भगवद्गीता : भगवद्गीता कलाम की पसंदीदा पुस्तकों में से एक थी, कलाम गीता के श्लोको से काफी प्रभावित थे। इससे इन्होंने जीवन को दूसरों के लिए समर्पित करना सीखा।

जीवन के आखिरी क्षण : अंत समय में भी कलाम देश हित के बारे में ही सोच रहे थे। मृत्यु के समय कलाम (IIM) इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट, शिलांग (Indian institute of Management, Sillong) में भाषण दे रहे थे तभी दिल का दौरा पड़ने पर कलाम की मृत्यु हो गई। 27 जुलाई 2015 को देश ने भारत रत्न अब्दुल कलाम को खो दिया। कलाम का अंतिम संस्कार उनके जन्म भूमि रामेश्वरम तमिलनाडु में हुआ। पूरा देश मिसाइल मैन अब्दुल कलाम के निधन के शोक में डूब गया, इस दिन भारत ने एक महान वैज्ञानिक और पूर्व राष्ट्रपति को खो दिया था। आज कलाम हमारे बीच ना होते हुए भी सभी देश वासियों के दिल में उपस्थित हैं, भारत के लिए इनका अमूल्य योगदान हमेशा स्मरणीय रहेगा।


a p j abdul kalam in hindi, a p j abdul kalam biography in hindi, about a p j abdul kalam in hindi, a p j abdul kalam in hindi biography, a p j abdul kalam essay, a p j abdul kalam hindi, a p j abdul kalam biography in short, about a p j abdul kalam in hindi, dr. a p j abdul kalam in Hindi,a p j abdul kalam, a p j abdul kalam jivan parichay, a p j abdul kalam jivani, biography of a p j abdul kalam in hindi, a p j abdul kalam information, a p j abdul kalam in hindi essay, life journey of a p j abdul kalam in hindi

कलाम के अनुसार अपने लक्ष्य को प्राप्त करने के 4 कदम है :
  • महान लक्ष्य
  • लगातार ज्ञान को बढ़ाते रहना
  • कठिन परिश्रम, कठिन परिश्रम, कठिन परिश्रम
  • दृढ़ता (समस्याओं से विचलित ना हो बल्कि उनसे मजबूती के साथ लड़े और सफलता प्राप्त करें।)

सपने वे नहीं जो हम नींद में देंखते है, बल्कि सपने तो वो है जो हमें नींद ही न आने दें।
• A P J Abdul Kalam Motivational Quotes


भारत रत्न एपीजे अब्दुल कलाम (A P J Abdul Kalam (in Hindi)) के बारे में यह जानकारी आपको कैसी लगी कृपया हमें कमेंट करके बताएं। यदि आपका कोई सुझाव हो तोे कमेंट में लिख सकते हैं।
धन्यवाद

Post a Comment

10 Comments